वाहनी के बारे में

एकीकृत मध्य प्रदेश राज्य की आंतरिक कानून व्यवस्था में बल की कमी को पूरा करने के अभिप्राय से मध्य प्रदेश पुलिस बल के अंतर्गत 22वीं वाहिनी विशेष सशस्त्र बल की स्वीकृति मध्य प्रदेश शासन गृह पुलिस विभाग के आदेश क्रमांक-म.प्र. शासन/गृह/पुलिस/4256-3628/II-B (III) भोपाल दिनांक 24.11.1966 तथा पुलिस मुख्यालय भोपाल का आदेश क्रमांक - पु.मु./IV/1644/66, दि. 01.12.1966 को राजधानी स्थित भोपाल के आलोक में 01 नवंबर 1966 को इस इकाई का गठन किया गया तथा राज्य शासन के आदेश क्रमांक - 3279-2-B (13), भोपाल दिनांक 07.12.1971 के अनुसार इस इकाई को 01.11.1971 से (India Reserve) वाहिनी घोषित किया गया।

08 अक्टूबर 1992 को असम राज्य से इस इकाई का मुख्यालय तथा 04 कंपनियॉ प्रति नियुक्ति से वापसी पश्चात 12 अक्टूबर 1992 को माना-कैम्प, जिला-रायपुर एकीकृत म.प्र. में स्थापित हुई। पृथक छ.ग. राज्य होने के पश्चात 01 नवंबर 2000 को म.प्र. से पृथक होकर राज्य शासन के आदेश क्रमांक-एफ-3-7/गृह/2001 रायपुर, दिनांक 03.05.2001 के तहत इस इकाई का क्रम से नामांतरण करते हुए 4थी वाहिनी छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल माना, रायपुर किया गया है।

इस वाहिनी की ‘ए’ कंपनी वर्ष 1992 से उसूर, बिलासपुर, सल्हेवारा, कांकेर, अंतागढ, कोरबा, रायपुर, ओरछा, परपा.
‘बी’ कंपनी-पीटीसीबोरगांव, बीजापुर, दर्री, अंतागढ़, रामगढ़, महासमुंद, नगरी, रूद्री, सिहावा.
‘सी’ कंपनी-भोपाल, चिन्तलनार, दल्लीराजहरा, डोंगरगढ़, मानपुर, रायपुर, राजनांदगांव, भोपाल, पखांजूर, कांकेर, सुकमा, महासमुंद, रामगढ़, जगदलपुर.
'डी' कंपनी-गोलापल्ली, रायपुर, राजनंदगांव, चिचोला, साल्हेवारा, अंतागढ़, पखांजूर, ओरछा, रायपुर, बयानार.
‘ई’ कंपनी-पीटीसीबोरगांव, सुकमा, पखांजूर, नारायणपुर, राणापाल, फरसगांव.
‘एफ’ कंपनी-सुकमा, बिलासपुर, दुर्ग, जशपुर, साल्हेवारा, पु.मु. रायपुर, नारायणपुर में तैनात रही।

अधिक +

अधिकारी


श्री रामकृष्ण साहू आई.पी.एस
सेनानी

श्री हरीश यादव
उप-सेनानी

श्री डी.एन.सिंह
सहायक - सेनानी

श्री असद खान
सहायक - सेनानी


कम्पनियों की पदस्थापना

इस वाहिनी की ‘ए’ कंपनी वर्ष 1992 से उसूर, बिलासपुर, सल्हेवारा, कांकेर, अंतागढ, कोरबा, रायपुर, ओरछा, परपा.
‘बी’ कंपनी-पीटीसीबोरगांव, बीजापुर, दर्री, अंतागढ़, रामगढ़, महासमुंद, नगरी, रूद्री, सिहावा.
‘सी’ कंपनी-भोपाल, चिन्तलनार, दल्लीराजहरा, डोंगरगढ़, मानपुर, रायपुर, राजनांदगांव, भोपाल, पखांजूर, कांकेर, सुकमा, महासमुंद, रामगढ़, जगदलपुर.
'डी' कंपनी-गोलापल्ली, रायपुर, राजनंदगांव, चिचोला, साल्हेवारा, अंतागढ़, पखांजूर, ओरछा, रायपुर, बयानार.
‘ई’ कंपनी-पीटीसीबोरगांव, सुकमा, पखांजूर, नारायणपुर, राणापाल, फरसगांव.
‘एफ’ कंपनी-सुकमा, बिलासपुर, दुर्ग, जशपुर, साल्हेवारा, पु.मु. रायपुर, नारायणपुर में तैनात रही।